Blog

Posts in Muslim personal Law & Indian court


Blog Index

दुरुस्त कौन ? कॉर्ट का जजमेंट या मुस्लिम पर्सनल लॉ ?

Posted on 4th May 2015 00:35:01

दुरुस्त  कौन ? कॉर्ट का जजमेंट या मुस्लिम पर्सनल लॉ  ? तलाक के बाद मिया बीवी के बीच कौन सा रिश्ता रह जाता है कि गुजारा भत्ता दिया जाए ? कोई खुनी रिश्ता भी  तो नहीँ । न ही पूर्व पति के घर ही घर ही रहती है । सोंचिये गौर से सोंचिये और फैसला  लीजिये , कौन है रौंग नंबर ?

पढ़िए  पूरी रिपोर्ट ..........

 

शाहबानो केस में आज से तीस साल क़ब्ल अदालत और मुस्लिम पर्सनल लॉ के दरमियान मामला ठन गया था । जहाँ अदालत ने दफा 125 का हवाला दे कर और क़ुरआन शरीफ की आयत  " और तलाक़ शुदा औरत के लिए मारूफ़ तरीके से मता है "  ( albakra:-241 )की मनमानी तशरीह करते हुए बानो के शौहर को तानिकाह सानी नोफॉका देने का हुक्म दे दिया था ,   वहीँ दूसरी तरफ मुस्लिम दानीश्वरों और ओलमा का मुतफेका   मौक़ूफ़  था के इस्लामी आएली क़ानून के तहत तलाक़ की इद्दत के गुजर जाने के बाद औरत अपने शौहर से किसी गुजारा भत्ता का हक़ नही रखती । 

Read More